छोटी सी ज़िन्दगी...

है छोटी सी ज़िन्दगी...
तकरारें किस लिए,
रहो एक दूसरे के 
दिलों में,ये 
दीवारें किस लिये 

🙏सुप्रभात🙏
🙏जय महाकाल🙏

0 comments:

Post a Comment